• Sat. Dec 3rd, 2022

विश्व सेरेब्रल पाल्सी दिवस पर आरोग्या फाउंडेशन द्वारा संचालित दिव्यांगन केंद्र पर जागरूकता कार्यक्रम

ByFocus News Ab Tak

Oct 6, 2022

ब्यूरो रिपोर्ट

अनुमान के मुताबिक सीतामढी जिले मे 10 हजार से अधिक बच्चे सेरेब्रल पाल्सी दिव्यांगता के शिकार – डॉ राजेश

सेरेब्रल पाल्सी दिव्यांग फिजियोथेरेपी चिकित्सा से हो सकते है आत्म निर्भर- डॉ राजेश

राष्ट्रीय न्यास,भारत सरकार की निरामाया स्वास्थ्य वीमा योजना के तहत प्रति वर्ष 1 लाख रुपए का लाभ ले सकते है सेरेब्रल पाल्सी दिव्यांग- डॉ राजेश।

अगर जन्म लेते ही बच्चा रोया नहीं या समय के साथ उसके शरीर में हरकत नहीं हो रही है तो तनिक भी देर मत कीजिय,यह सेरेब्रल पालसी हो सकती है। शुरुआत में ही विशेषज्ञ फिजियो चिकित्सक से इसका इलाज कराने पर यह ठीक हो सकती है l

दिव्यांगता मे कार्य कर रही संस्था आरोग्या फाउंडेशन द्वारा संचालित दिव्यांगन के निदेशक सह प्रसिद्ध फिजियो चिकित्सक डॉ राजेश कुमार सुमन ने “विश्व सेरेब्रल पाल्सी दिवस” के अवसर पर
दिव्यांगन मे आयोजित जागरुकता कार्यक्रम मे कहा कि सेरेब्रल पालसी की पहचान जरूरी है। आमतौर पर लोग बच्चों की असामान्य हरकतों पर ध्यान नहीं देते और सात-आठ साल होने पर जब ध्यान देते हैं तब तक देर हो चुकी होती है।

डॉ. राजेश के मुताबिक लोगों को सेरेब्रल पालसी (सीपी) के बारे में पता नहीं है, यह सबसे बड़ी परेशानी है। वे समझ ही नहीं पाते कि उनका बच्चा इस रोग की जद में है। कुछ साल पहले तक परिजन बच्चों में सेरेब्रल पालसी से उत्पन्न विकलांगता को पोलियो समझ लेते थे। एक अनुमान के मुताबिक, भारत में 35 लाख से भी ज्यादा बच्चे इस बीमारी की चपेट में हैं। 15 वर्षों से सेरेब्रल पल्सी दिव्यांग बच्चों का इलाज कर रहे डॉ. राजेश का दावा है कि मौजूदा समय में अकेले सीतामढ़ी में ही 10 हजार से ज्यादा बच्चे सेरेब्रल पालसी के शिकार हैं , आंकड़ो पर गौर करे तो मात्र 350 बच्चे ही जिले मे सेरेब्रल पल्सी दिव्यांगता का प्रमाण पत्र ले पाए है l सरेब्रल पाल्सी बच्चों का विशेषज्ञ चिकित्सक से इलाज कराने पर 90 प्रतिशत तक सुधार की गुंजाइश होती है।

डॉ राजेश ने बताया की आरोग्या संस्था के माध्यम से इस वर्ष निरामाया वीमा का लाभ 56 लाभुको को प्रदान किया गया है जिससे सभी दिव्यांग लाभुको के द्वारा 1 लाख रुपये इलाज के मद मे सरकार द्वारा मदद ली जा सकती है।

विश्व सेरेब्रल पल्सी दिवस के अवसर पर सीपी ग्रसित बच्चों के बीच केक भी काटा गया और दर्ज़नो दिव्यांग बच्चो को गिफ्ट प्रदान किया गया। साथ ही उनके परिजनों को राष्ट्रीय न्यास की निरामाया स्वास्थ्य विमा योजना के बारे मे विस्तृत रूप से जानकारी प्रदान की गयी।
मौके पर लायंस क्लब यूथ के अमित प्रकाश गोल्डी,राहुल रंजन,मधुरिमा रानी ,बबन कुमार, ममता, अदिति, अंजू, अनि, आर्जव,समेत दर्जनो बच्चे व अभिभावक मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed