• Fri. Jun 2nd, 2023

पटना होमगार्ड डीजी शोभा अहोतकर और आईजी विकास वैभव का बिबाद

ByFocus News Ab Tak

Feb 13, 2023

PATNA: होमगार्ड डीजी शोभा अहोतकर और आईजी विकास वैभव का बिबाद रुकने का नाम नहीं ले रहा है । इस  विवाद प्रकरण में नई खबर सामने आ रही है. जहां आईपीएस अधिकारी विकास वैभव ने अने डीजी के साथ काम में खतरा महसूस कर रहे हैं. ऐसे में गृह रक्षा वाहिनी आईजी  पद से स्थानांतरित करने का आग्रह किया है. इस संबंध में उन्होंने गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव को पत्र लिख कर गुहार लगाया है.  आईपीएस अधिकारी विकास वैभव ने कहा है की मानसिक प्रताड़नायुक्त वर्तमान पद से मुक्त किया जाय। गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव चैतन्य प्रसाद को लिखे पत्र में विकास वैभव ने कहा है कि मेरा अब उनके (शोभा अहोतकर) नियंत्रण में कार्य करना गंभीर खतरे की घंटी से कम नहीं है. आशंका है कि वहां कार्यरत रहने पर ऑफिस में ही मेरे साथ अप्रिय घटना भी घट सकती है. या फिर ऐसी क्षति पहुंचाई जा सकती है जो मेरे लिए अपूरणीय हो. ऐसे में अब 1 दिन भी वरीय पदाधिकारी के अधीन कार्यरत रहना संभव एवं सुरक्षित नहीं है.इन विशेष परिस्थिति के मद्देनजर मेरे निर्दोष पारिवारिक सदस्यों की सुरक्षा पर विचार किया जाय. साथ ही अस्थाई तौर पर उक्त वरीय पदाधिकारी के नियंत्रण से मुक्त कर किसी अन्य पद पर पदस्थापित करने को लेकर राज्य सरकार की स्वीकृति ली जाए.उन्होंने अपने पत्र में आगे यह भी लिखा है कि यदि राज्य सरकार के लिए यह वैकल्पिक व्यवस्था संभव नहीं हो तो 13 फरवरी से उपार्जित अवकाश में जाने की अनुमति दी जाय. विकास वैभव ने आग्रह किया है कि वे कई महीनों से मानसिक रूप से प्रताड़ित हो रहे हैं. ऐसे में संभव हो तो स्पष्टीकरण समर्पित करने की अवधि 7 दिन से बढ़ाकर 14 दिन की जाय. विकास वैभव ने अपने पत्र में उल्लेख किया है कि गृह विभाग का पत्र 11 फरवरी को मिला,जिसमें मेरे विरुद्ध अनुशासनिक कार्रवाई किए जाने के संबंध में जानकारी हुई .मुझे 7 दिनों के अंदर स्पष्टीकरण समर्पित करने को कहा गया. उस अवधि को 14 दिन किया जाय.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed