• Sun. Nov 27th, 2022

रूस-यूक्रेन युद्ध समाप्ति तथा विश्व शांति के लिए भारत करे मजबूत पहल।
-जबतक विश्व अहिंसा को नही अपनाता मानवजाति का विनाश तय है-गांधी।

ByFocus News Ab Tak

Mar 27, 2022

ब्यूरो रिपोर्ट सीतामढ़ी

सर्व सेवा संघ (अखिल भारत सर्वोदय मंडल)के रूस-यूक्रेन महायुद्ध की समाप्ति,विश्व शांति की पहल तेज करने तथा मानव-जीवन की रक्षा के लिए एक दिवसीय उपवास सत्याग्रह की अपील के आलोक मे सीतामढी सर्वोदय मंडल के तत्वावधान में खादी आश्रम सर्वोदय मण्डल कार्यालय, सीतामढी में एक दिवसीय उपवास सत्याग्रह का आयोजन किया गया।सर्वोदय मंडल के राष्ट्रीय मंत्री तथा जिलाध्यक्ष डाआनन्द किशोर की अध्यक्षता में आयोजित उपवास सत्याग्रह मे सर्वोदय कार्यकर्ता के साथ शिक्षक,अधिवक्ता,ट्रेड यूनियन, किसान संगठन तथा वामपंथी संगठनो के नेता भी शामिल हुए।सत्याग्रह स्थल पर परिचर्चा के तहत वक्ताओं ने कहा रूस-यूक्रेन महायुद्ध से मानवता पर बढते खतरे के साथ हम तीसरे विश्व युद्ध के मुहाने पर खडे हैं इन विषम परिस्थितियों में भारत को गांधी के अहिंसा के अमोघ अस्त्र के साथ विश्व शांति की पहल तेज करनी चाहिए।

बापू ने कहा था”एटम बम के इस युग में केवल विशुद्ध अहिंसा हीं वह शक्ति है जिससे हिंसा की किसी भी चाल को ध्वस्त किया जा सकता है”।
जब हिरोसीमा पर परमाणु बम छोडा गया था उस समय भी बापू ने कहा था’जब तक विश्व अहिंसा को नही अपनाता मानव जाति का विनाश निश्चित है’।सर्वोदय मंडल की ओर से स्कूल,कॉलेज,गांवों से भी विश्वशांति की मांग उठाने तथा शांति प्राथना करने की अपील की गई।


मौके पर वरिष्ठ वामपंथी नेता प्रो दिगम्बर ठाकुर ने शरबत पिलाकर सभी सर्वोदयी कार्यकर्ताओं का उपवास समाप्त कराया।मौके पर विचार व्यक्त करने वालों में प्रोफेसर दिगम्बर ठाकुर,डा आनन्द किशोर, रामप्रमोद मिश्र,आलोक कुमार सिंह,वरिष्ठअधिवक्ता रामपदारथ मिश्र,नगर परिषद के पूर्व अध्यक्ष मनोज कुमार,जीवनाथ शाफी, लालबाबू मिश्र,शशिधर शर्मा,राकेश कुमार चन्द्रवंशी, सत्यनारायण सिंह,नन्दकिशोर मंडल,चन्द्रदेव मंडल,आफताब अंजुम,मो गयासुद्दीन,प्रो फणीन्द्र चौधरी,सुरेश प्रसाद,चन्देश्वर प्रसाद ने अपना विचार रखा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *