• Sun. Nov 27th, 2022

पटना:-अग्‍न‍िपथ के विरोध में बिहार में लगातार तीसरे दिन उपद्रव जारी ।

ByFocus News Ab Tak

Jun 17, 2022

ब्यूरो रिपोर्ट

पटना:-अग्‍न‍िपथ के विरोध में बिहार में लगातार तीसरे दिन उपद्रव हुआ है। लखीसराय स्‍टेशन पर आनंद विहार- भागलपुर विक्रमश‍िला एक्‍सप्रेस को तो समस्‍तीपुर में बिहार संपर्क क्रांति एक्‍सप्रेस व अमरनाथ एक्‍सप्रेस और इसी जिले के मोहिउद्दी्नगर में जम्‍मू तवी – गुवाहाटी लोहित एक्‍सप्रेस को आग लगा दी गई। इसके अलावा भी कई ट्रेनों को आग लगाई गई है। पटना शहर में भी उत्‍पात हुआ है। गांधी मैदान, सगुना मोड़ और दानापुर रेलवे स्‍टेशन के पास वाहनों को आग लगाने के साथ ही तोड़फोड़ की गई है। दानापुर स्‍टेशन के कमरों में भी आग लगाई गई है।

शुक्रवार को हंगामे की शुरुआत बक्‍सर जिले के डुमरांव स्‍टेशन से हुई। तीन दिन पहले बिहार में इस विरोध की शुरुआत भी बक्‍सर स्‍टेशन से ही हुई थी। हंगामे के कारण पंड‍ित दीन दयाल उपाध्‍याय जंक्‍शन – दानापुर रेलखंड सहित रेलवे के कई अन्‍य रूट पर श्रमजीवी, पूर्वा, संघमित्रा, जनशताब्‍दी, जन साधारण एक्‍सप्रेस जैसी दर्जनों ट्रेनें जहां-तहां फंसी हैं। कुछ ट्रेनों पर पथराव भी किया गया है। विक्रमशिला एक्‍सप्रेस ट्रेन में लगाई आग, एसी कोच में तोड़फोड़, भागे यात्री

अहले सुबह से ही हंगामे की शुरुआत

बक्‍सर जिले के डुमरांव और भोजपुर जिले के बिहिया स्‍टेशन पर युवा हंगामा करने लगे। लखीसराय स्‍टेशन पर भी बवाल किया गया। डाउन की नई दिल्‍ली-पटना-राजगीर श्रमजीवी एक्‍सप्रेस ट्रैक क्‍लीयर नहीं होने की वजह से एक घंटे से बक्‍सर स्‍टेशन पर खड़ी रही। इसके पीछे एक के बाद एक पटना की तरफ आने वाली कई ट्रेनें पंड‍ित दीन दयाल उपाध्‍याय जंक्‍शन तक फंसी रहीं। यह भारतीय रेलवे के सबसे व्‍यस्‍त रूटों में से एक है।

समस्तीपुर में प्रदर्शन ने लिया हिंसक रूप, लोहित एक्सप्रेस की आठ बोगियां आग के हवाले

भोजपुर जिले के अंतर्गत ब‍िह‍िया और बनाही स्‍टेशनों पर उपद्रव‍ियों ने जमकर उत्‍पात किया है। यहां हंगामे को कवर कर रहे पत्रकारों के कैमरे और मोबाइल छीन लिए गए। बाद में काफी आरजू- म‍िन्‍नत करने पर मोबाइल को पूरी तरह फार्मेट करने के बाद लौटाया गया। पत्रकारों के साथ मारपीट भी की गई। दानापुर- पीडीडीयू सेक्‍शन पर आरा जिले की सीमा में युवाओं ने चलती ट्रेन पर पथराव किया। उपद्रव‍ियों की भीड़ देखकर बिहिया स्टेशन के आसपास की दुकानें बंद हो गई हैं। रेलवे ट्रैक जाम होने से आरा रेलवे स्टेशन पर पंजाब मेल और विभूति एक्सप्रेस समेत कई ट्रेनें जहां-तहां खड़ी हैं। बनाही में बक्सर पटना शटल पर पथराव हुआ है। सभी यात्री सहमे हुए हैं। बिहिया में पैनल रूम के बाहर कुर्सी टेबल निकालकर आग लगाई गई है, लेकिन पैनल रूम सुरक्षित है। बिहिया स्टेशन पर पथराव के दौरान दारोगा राम स्वरूप राम को चोटें आई हैं।

आरा में पत्रकारों का कैमरा और मोबाइल छ‍ीना

लखीसराय स्‍टेशन पर विक्रमश‍िला एक्‍सप्रेस को लगाई आग

लखीसराय में करीब 50 की संख्या में युवा सुबह ही सड़क पट निकल पड़े। केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ नारेबाजी की। हंगामा करते युवक लखीसराय स्टेशन पहुंच गए। रास्ते में यातायात पुलिस के चेकपोस्ट पर तोड़फोड़ कर दी। इसके बाद स्टेशन पहुंचे, जहां खूब हंगामा हो रहा है। यहां विक्रमशिला एक्‍सप्रेस को रोककर रखा गया है। ट्रेन के एक एसी कोच में तोड़फोड़ की गई है। इसके बाद ट्रेन के कुछ कोच में आग लगा दी गई है। एक मालगाड़ी को जबरन रोक गया। टायर जलाकर विरोध हो रहा है। चालक के साथ बदसलूकी की गई है। हंगामा अभी जारी है।

बक्‍सर में बड़ी कार्रवाई कर सकता है प्रशासन

अग्निपथ योजना के विरोध के तीसरे दिन बक्सर स्‍टेशन पर तो शांति रही, लेकिन इसी जिले के अंतर्गत डुमरांव स्‍टेशन पर युवकों ने अल सुबह से ही पश्चिमी गुमटी पर आगजनी करते हुए ट्रैक जाम कर दिया। सुबह आठ बजे तक कई थानों की पुलिस को डुमरांव स्‍टेशन पर भेजा गया। इसके बाद पुलिस ने बल प्रयोग करते युवकों को रेलवे ट्रैक से दूर खदेड़ दिया। बक्सर स्टेशन प्रबंधक राजन कुमार ने बताया कि सुबह 5:20 बजे बक्सर आई श्रमजीवी एक्सप्रेस अभी तक बक्सर में खड़ी है, जबकि पूर्वा, जनसाधारण समेत अन्य ट्रेनें पीछे विभिन्न स्टेशनों पर खड़ी हैं।

बिहार में हाई अलर्ट पर पुलिस

सेना भर्ती की नई स्‍कीम को लेकर बिहार में दो तरह के सुर देखने को मिल रहे हैं। खासकर आर्मी बहाली की तैयारी करने वाले युवा इस नई स्‍कीम को लेकर आशंकित हैं और इसका विरोध कर रहे हैं। इस विरोध में अब विपक्षी पार्टियां भी कूदने लगी हैं। शुक्रवार को कई संगठनों ने इस मसले पर विरोध का एलान किया है। इसे देखते हुए बिहार पुलिस मुख्‍यालय ने जिलों को अलर्ट कर दिया है। खासकर सारण और शाहाबाद प्रमंडल पर पुलिस का अधिक ध्‍यान है।

समस्‍तीपुर में लोहित एक्‍सप्रेस आग के हवाले

समस्‍तीपुर में लोहित एक्‍सप्रेस को आग लगाए जाने की सूचना मिल रही है। यह ट्रेन गुवाहाटी से जम्‍मू तवी के बीच चलती है। दूसरी तरफ, जमुई में अग्निपथ के विरोध में करीब 100 की संख्या में युवा सुबह ही सड़क पर निकल पड़े। केंद्र सरकार और नरेन्द्र मोदी के खिलाफ नारेबाजी कर रहे हैं। फिलहाल कचहरी चौक पर छात्रों का जमावड़ा लग रहा है। खगड़‍िया स्‍टेशन के मानसी स्‍टेशन पर हंगामा हो रहा है। पटना जिले के अंतर्गत बिहटा स्‍टेशन पर युवाओं ने अप और डाउन रेल ट्रैक को जाम कर दिया है। बेगूसराय में भी हंगामा हो रहा है। कई जगहों पर प्रशासन पर भी युवाओं ने हमला किया है। प्रशासन की गाड़‍ियों को नुकसान पहुंचाया है।

नवादा और हाजीपुर से लेकर अरवल और औरंगाबाद में बवाल

नवादा के नारदीगंज में भी युवाओं ने हंगामा किया है। वहीं हाजीपुर स्‍टेशन पर उपद्रवियों ने तोड़फोड़ की है। अरवल में सड़क जाम कर युवा विरोध जाहिर कर रहे हैं। पटना जिले के अंतर्गत बिहटा में सीमांचल एक्‍सप्रेस पर पथराव किया गया। इस ट्रेन का यहां स्‍टापेज नहीं है। दानापुर और फतुुुहा सहित अन्‍य इलाकों में भी युवा नए नियम का विरोध कर रहे हैं। युवाओं का कहना है कि सेना में भर्ती के लिए पुरानी व्‍यवस्‍था कायम रहनी चाहिए। औरंगाबाद में नई दिल्‍ली -हावड़ा ग्रैंड कार्ड रेल लाइन को जाम कर दिया गया है।

कहलगांव में बरौनी-हावड़ा ट्रेन को रोका

भागलपुर में कहलगांव स्टेशन पर युवकों ने जयनगर बरौनी हावड़ा ट्रेन को रोक कर हंगामा किया। बेगूसराय में सुबह जमालपुर-तिलरथ डेमू को छोड़कर कोई ट्रेन नहीं आई है। राज्यरानी, इंटरसिटी ट्रेन रद कर दी गई है।

लखीसराय में भाजपा कार्यालय को फूंका

प्रदर्शनकारी भाजपा कार्यालयों को भी निशाना बना रहे हैं। शुक्रवार को लखीसराय शहर के बाइपास रोड में भाजपा के जिला कार्यालय में भी आग लगा दी गई है। भाजपा कार्यालय धू धू करके जल रहा है। इसी शहर के स्‍टेशन पर विक्रमशिला ट्रेन का ब्रेक वैन और इंजन सहित 11 बोगियों को आग के हवाले कर दिया गया। हालांकि इंजन में लगी आग को बुझा लिया गया है। आपको बता दें कि गुरुवार को नवादा जिले में भाजपा कार्यालय को आग लगाई गई थी।

बिहार के बेतिया में सांसद डॉ संजय जयसवाल वह उपमुख्यमंत्री रेणु देवी के घर पर हुए हमले के बाद भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डा संजय जयसवाल ने शहर में करीब चार घंटे तक उपद्रव , सरकारी एवं निजी संपत्ति की क्षति को लेकर सीधे तौर पर प्रशासन‌ पर‌ सवाल‌ उठाया। कहा कि रेलवे स्टेशन से जब उपद्रवी शहर की ओर निकले थे तभी मैंने सक्षम अधिकारियों को सूचित कर दिया था। लेकिन उपद्रवी मेरे घर पर पहुंचे। परिसर में घुसकर तोड़फोड़ एवं हंगामा किया। मेरे कर्मी जितेंद्र कुमार एवं अनमोल कुमार मिश्र जब विरोध करने के लिए गए तो उपद्रवियों ने उन पर हमला कर जख्मी कर दिया। पुलिस वहां मौजूद थी लेकिन उपद्रवियों पर कोई कार्रवाई नहीं की। उन्होंने केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना के विरोध को लेकर कहां कि इस प्रदर्शन में छात्र कहीं से भी नहीं शामिल रहे। राजद के गुंडों ने शहर में आतंक मचाया और पुलिस चुपचाप देखती रही। स्टेशन परिसर में उपद्रवी तोड़फोड़ एवं आतंक मचाते रहे और पुलिस वहां मूकदर्शक बनी थी। मालूम ‌हो कि आवास शहर के अस्पताल रोड में अवस्थित है। उपद्रवी उनके आवासीय परिसर में घुस गए थे। नारेबाजी एवं पत्थरबाजी की। उनके घर के खिड़की एवं दरवाजों के शीशे तोड़ डाले। इसी तरह से उपमुख्यमंत्री रेणु देवी के आवास पर तोड़फोड़ की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *