• Sun. Nov 27th, 2022

सीतामढ़ी:-भुतही में युवा अजीत निःशुल्क करा रहे योग

ByFocus News Ab Tak

Jun 28, 2022

अजीत पिंडदान की जगह करा रहे योगा ताकि समाज का हो सके कल्याण

मो कमर अख्तर की रिपोर्ट


सीतामढ़ी- कुछ युवा समाज में अलग अपनी पहचान बनाते है। वह लीक से हट कर नया कुछ करते है, जिससे उनको ख्याति मिल जाती है। ऐसा ही कुछ कर रहे है सोनबरसा प्रखंड के भुतही निवासी राम पवित्र साह के पुत्र अजीत कुमार जो पिछले वर्ष से निःशुल्क योगा करा रहे है। अजीत की प्रारंभिक शिक्षा भुतही से हुई। 2010 में जागेश्वर उच्च विद्यालय से मैट्रिक किया। 2017-19 में पटना फुलवारी शरीफ स्थित एक संस्थान से बीएड किया। 2020-21 में लखनऊ स्थित स्वामी दयानंद वोकेशनल सेंटर से योग में पीजीडीवाईटी का कोर्स किया। इग्नू से इतिहास से एमए कर रहे है, वहीं बीपीएससी की तैयारी भी कर रहे हैं।

मां के ईलाज के दौरान योग की मिली प्रेरणा- अजीत को मां के ईलाज के दौरान एक सप्ताह तक हाॅस्पिटल रहना पड़ा। इस दौरान अजीत ने देखा कि लोग ईलाज के लिए परेशान है। कुछ बिमारी का ईलाज योग से संभव है या योग करने पर बहुत हद तक काबू पाया जा सकता है। वही से इन्हें प्रेरणा मिली कि सुदूर एवं ग्रामीण ईलाका में योग का जागरूकता फैला लोगों योगा करने के लिए प्रेरित करूं। ऐसा उन्होंने किया भी। 5 सितंबर 2020 से लोगों को योगा करने के लिए प्रेरित कर योग कराना शुरू किया। भुतही रैन स्थित हनुमान मंदिर के पास योगा कराना शुरू किया। आज लगभग प्रतिदिन 45 लोग योगा कर रहे हैं। जिसमें महिला, बच्चे, युवा एवं बुजुर्ग शामिल हैं।उक्त केंद्र पर योग के साथ साथ खेल का भी अजीत ने किया प्रबंध- अजीत ने आर पी एस योगासन, स्पोर्टस, ध्यान पुस्तकालय केंद्र की स्थापना कर योगा के साथ साथ खेल का भी प्रबंध किया। सुबह 4:30 से 5:45 तक योगा कराया जाता है। 5:45 से 6:30 तक अपने इच्छा के अनुरूप बैंडमिटन, वालीबॉल एवं फूटबॉल खेल सकते है।

अजीत ने कहा- कि मेरा लक्ष्य योगा में हर समुदाय का जोड़ना है। कुछ वर्ष पूर्व मेरे मां का देहांत हो गया। मैंने पिंडदान देने से बेहतर योगा की ट्रेनिंग देना समझा ताकि लोगों का कल्याण हो सके। योगा से डायबिटीज़ को कंट्रोल किया जा सकता है। गैस का स्थायी निदान योगा से है। कब्ज की समस्या दूर हो सकती है। मेंटल डिप्रेशन में यह लाभकारी है। योगा करने से लोग सुबह जगने की आदि हो जाते है। आज जिस तरह लोगों का लाईफ स्टाइल बदल गया है योगा अत्यंत आवश्यक है। यही नही आज योगा प्रोफेशनल की अमेरिका, ब्रिटेन आदि देशों में बहुत मांग है। भारत आज योग गुरू है। दूसरे देश भी अब अपनाने लगे है।

विधायक सहित गणमान्य शामिल हो चुके है अजीत के योगासन में- अन्तराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर अजीत के योगासन में बथनाहा विधायक अनिल कुमार, विधान पार्षद रेखा कुमारी, नवजीवन मल्टी स्पेशलिटी हॉस्पिटल के प्रबंध निदेशक डा प्रवीण कुमार, शिशु रोग विशेषज्ञ डा मनोज, डा प्रमोद सहित स्थानीय जन प्रतिनिधि शामिल होकर योगासन किया।

क्या कहते है विधायक एवं गणमान्य
बथनाहा विधायक अनिल कुमार ने भुतही में निःशुल्क योगा कराने के लिए अजीत की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि अजीत योग के प्रति लोगों को जागरूक कर रहे हैं।
नवजीवन मल्टी स्पेशलिटी हॉस्पिटल के प्रबंध निदेशक डा प्रवीण ने कहा योग की शुरुआत हमारे देश से हुई। योग से तन के साथ मन शुद्व होता है। अजीत निस्वार्थ भुतही गांव में योग की जानकारी देने के साथ योगा करा रहे हैं यह बहुत बड़ा कार्य है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *